आकाशवाणी के सभागृह में मुशायरे की यादगार शाम

0
748

आकाशवाणी के एफएम रेनबो पर प्रसारण शनिवार को शाम 5 बजे 

मुंबई। भारत को जी-20 की अध्यक्षता और मेजबानी मिलने के बाद तमाम सरकारी संस्थान किसी न किसी आयोजन से अपने आपको कनेक्ट कर रहे हैं। आकाशवाणी मुंबई ने अपने आपको मुशायरे का यादगार शाम जैसे सांस्कृतिक आयोजन के माध्यम से जी-20 से कनेक्ट किया।

आकाशवाणी मुंबई की ओर से मंगलवार की शाम चर्चगेट स्थित आकाशवाणी के सभागार में मुशायरा आयोजित किया गया जिसमें शहर के नौ चुनिंदा शायरों ने अपनी-अपनी ग़ज़लें पेश करके दर्शकों का भरपूर मनोरंजन क्या। ग़ज़ल पेश करने वालों में शायर देवमणि पांडेय, नवीन जोशी नवा, सिद्धार्थ शांडिल्य, माधव नूर, पूनम विश्वकर्मा, अश्विनी मित्तल ऐश, रितिका मौर्या, विश्वदीप ज़ीस्त और ज़िशान ‘साहिर’ ने अपनी रचनाएं पेश की।

शायर देवमणि पांडेय ने कार्यक्रम का संचालन किया। मुशायरा दो चरण में हुआ और सभी शायरों ने दो-दो बार अपनी रचनाएँ पेश की। देवमणि पांडेय, नवीन जोशी नवा, सिद्धार्थ शांडिल्य, अश्विनी मित्तल ऐश, रितिका मौर्या, विश्वदीप ज़ीस्त और ज़िशान ‘साहिर’ ने अपनी-अपनी रचनाएं तहत में पेश की। माधव नूर और पूनम विश्वकर्मा ने तहत और तरन्नुम में ग़ज़लें पेश की। कार्यक्रम के आरंभ में उद्घोषक जी श्याम ने शायरों का परिचय दिया और कार्यक्रम प्रमुख अनिता पटेल ने स्वागत किया।

इस अवसर पर अभियांत्रिकी उपमहानिदेशक बाबूराजन के के, अधीक्षक अभियंता एमएस मेहता और प्रसार भारती के कई प्रमुख अधिकारियों ने अपनी मौजूदगी से आयोजन की गरिमा बढ़ाई। आकाशवाणी के फ़ेसबुक पेज़ और यू ट्यूब पर इस मुशायरे का लाइव प्रसारण किया गया। आकाशवाणी के एफएम रेनबो पर शनिवार 5 अगस्त को शाम 5 बजे यह मुशायरा प्रसारित किया गया।