संजय राउत के खिलाफ 50 पैसे का आपराधिक मानहानि का मुकदमा

0
439

मोहित कंबोज भारतीय ने कहा कि संजय राउत की औकात एक रुपए की भी नहीं

संवादाता
मुंबईः भारतीय जनता पार्टी के युवा नेता मोहित कंबोज भारतीय ने उद्धव बालाहेब ठाकरे शिवसेना प्रवक्ता और राज्यसभा सदस्य संजय राउत और कांग्रेस नेता अतुल लोंढे पाटिल के खिलाफ 50-50 पैसे के आपराधिक मानहानि का मुकदमा कराने का फैसला लेते हुए कहा कि संजय राउत की औकात एक रुपए की भी नहीं है। इसलिए उनके खिलाफ 50 पैसे का मानहानि का मुकदमा दायर कर रहा हूँ।

मंगलवार की सुबह अपने सांताक्रुज स्थित आवास पर आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोहित कंबोज भारतीय ने कहा, “मैं संजय राउत और कांग्रेस नेता अतुल लोंढे पाटिल के खिलाफ 50-50 पैसे का आपराधिक मानहानि का मुकदमा दर्ज करा रहा हूं, क्योंकि दोनों की औकात एक रुपए की भी नहीं है। इसलिए इन दोंनों के खिलाफ मैंने 50-50 पैसे का आपराधिक मानहानि का मुकदमा दर्ज कराने का निर्णय लिया है।”

मोहित कंबोज भारतीय ने संजय राउत के ट्वीट और पत्रक को झूठ का पुलिंदा करार देते हुए कहा कि बिना किसी सबूत के संजय राउत ने मेरे ऊपर झूठा और मनगढ़ंत आरोप लगाया है और संजय राउत के बयान के हवाले से मीडिया में बिल्कुल ग़लत खबर प्रसारित की गई, जबकि मैं उस रात उस फैमिली रेस्टोरेंट में अपनी पत्नी अक्षा कंबोज के साथ था।

मोहित कंबोज भारतीय ने कहा कि मीडिया में जो स्टोरी दिखाई गई उसका सच से कोई भी वास्ता नहीं। वह पूरी तरह से तथ्यहीन ख़बर है, जो संजय राउत के बयान के साथ प्रसारित की गई। दरअसल, मीडिया में कोई और स्टोरी दिखाई गई, जबकि उसकी सच्चाई कुछ और है। यह खबर मेरी छवि को खराब करने के लिए साजिश के तहत प्लांट की गई।

मोहित कंबोज भारतीय ने कहा कि शनिवार की रात मेरे एक पारिवारिक दोस्त का बर्थडे था। इसलिए मैं अपनी पत्नी अक्षा के साथ मित्र को जन्मदिन की शुभकामनाएं देने के लिए खार के एक फैमिली रेस्टोरेंट में गया था। लेकिन संजय राउत ने हमेशा की तरह बिना तथ्यों की जांच किए उस फैमिली रेस्टोरेंट को डांस बार कह दिया।

मोहित कंबोज भारतीय ने कहा, “संजय राउत ने संजय राऊत ने जो पत्रक लिखा है, उसमें मेरे ऊपर कई आरोप लगाए हैं। लेकिन उनके आदमी ने सारा वीडियो बनाया लेकिन जो आरोप संजय राउत ने लगाए, उसका वीडियो नहीं बनाया। इससे साफ लग रहा है कि संजय राउत के आरोप पूरी तरह निराधार, झूठ और सच से परे है। संजय राउत को झूठा आरोप लगाने की आदत रही है और उसी आदत के तहत उन्होंने यह गलत आरोप लगा दिया।”

मोहित कंबोज भारतीय ने कहा, “संजय राउत ने एक साजिश के तहत मेरी छवि ख़राब करने के लिए यह स्टोरी प्लांट की। सच यह है कि शानिवार की रात मैं अपनी पत्नी के साथ उस फैमिली रेस्टोरेंट में पहुंचा और दोस्त को शुभकामना देकर एक टेबल पर हम दोनों बैठे गए। उसके पांच मिनट बाद कुछ शरारती किस्म के लोग आकर हंगामा करने लगे और वीडियो शूट करने लगे। उनमें से एक का नाम सचिन कांबले था।

श्री कंबोज ने कहा, “इसके बाद चार-पांच लड़के और आ गए। उनमें से मोइन सलीम शेख के पास रिवॉल्वर थी। वे लोग हंगामा करने लगे और हंगामेबाजों ने मेरे ऊपर हमला करने की कोशिश की। मुझे संदेह है कि वे लोग मेरी गाड़ी का पीछा कर रहे थे और जैसे ही मैं रेस्टोरेंट में पहुंचा, वे लोग भी पहुंच गए। हालांकि मेरे सुरक्षा कर्मियों की मुस्तैदी के कारण मुझे नुकसान पहुंचाने के अपने मंसूबे में हमलावर कामयाब नहीं हो सके और वहां से भाग गए।”

श्री कंबोज ने कहा, “उसी रात मुंबई पुलिस ने रैश ड्राइविंग के लिए इस कार के चालक के खिलाफ चालान काटा। कुछ देर बाद करीब ढाई बजे वहां खार पुलिस आई और रेस्टोरेंट के खिलाफ चालान काटा।” श्री कंबोज ने संजय राउत को निजी हमले न करने की सलाह देते हुए कहा, “मेरे पास कई लोगों के खिलाफ सबूत के साथ सूचना है। अगर मैंने खुलासा किया तो लोग मुंह दिखाने लायक नहीं रह जाएंगे।”

इसे भी पढ़ें – कहानी – ग्रीटिंग कार्ड