उदय प्रताप कॉलेज में यादगार आयोजन रहा विज्ञान महोत्सव का आयोजन

0
406

संवाददाता
वाराणसीः उत्तर प्रदेश के वाराणसी के सौ साल से अधिक पुराने उदय प्रताप कॉलेज, वाराणसी में विज्ञान, प्रद्योगिकी और नवाचार पर आधारित विज्ञान महोत्सव का आयोजन किया गया। यह महोत्सव विज्ञान एवं कृषि संकायों के छात्र छात्राओं के लिए आयोजित किया गया, जिसमें 400 से अधिक छात्र छात्राओं ने ऑनलाइन गूगल फॉर्म के जरिए रजिस्ट्रेशन किया था।

विज्ञान महोत्सव कार्यक्रम में पोस्टर मेकिंग, मॉडल एवं रंगोली जैसी मुख्य प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया जिसमें छात्र-छात्राओं बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया और अपने अपनी कल्पनाओं, विचारों और नवाचार के उद्देश्यों को पोस्टर, रंगोली और मॉडल के माध्यम से प्रदर्शित किया। सभी थीमों का मूल्यांकन अलग निर्णायक मंडल द्वारा किया गया।

मॉडल प्रतियोगिता में शिफा इदरीशी और उनकी टीम प्रथम विजेता रही। दूसरे पुरस्कार के लिए में टाईअप हो गया और पुरस्कार संयुक्त रूप से बीएससी पंचम सेमेस्टर की छात्रा सात्विक त्रिपाठी और उनकी टीम तथा बीएससी (एजी) तृतीय सेमेस्टर की छात्रा काजल सिंह और उनकी टीम को मिला। तृतीय विजेता बीएससी (एजी) सप्तम सेमेस्टर के आदित्य कुमार कश्यप रहे।

पोस्टर प्रतियोगिता में प्रथम स्थान बीएससी तृतीय सेमेस्टर की नैंसी और उनकी टीम को मिला। द्वितीय पुरस्कार बीएससी पंचम सेमेस्टर के छात्र रुद्रप्रताप वर्मा और उनकी टीम को मिला। तृतीय विजेता बीएससी प्रथम सेमेस्टर की छात्रा प्रणामिका मिश्रा और उनकी टीम रही। रंगोली प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार बीएससी पंचम सेमेस्टर की छात्रा अभिलाषा तिवारी और उनकी टीम को मिला। द्वितीय स्थान बी एससी पंचम सेमेस्टर की छात्रा श्रेया जयसवाल और उनकी टीम को मिला। इसी तरह तीसरा पुरस्कार बी एससी पंचम सेमेस्टर की छात्रा आकांक्षा यादव और उनकी टीम को मिला।

विज्ञान महोत्सव के मुख्य अतिथि इंदिरा गांधी परमाणु अनुसंधान केंद्र (इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर एटॉमिक रिसर्च) कलपक्कम तमिलनाडु के परमाणु अनुसंधान विभाग के साइंटिस्ट अतिफ खान ने छात्र-छात्राओं को बैक्टीरियोफेज और बायोफाउल्डिंग के विषय में व्याख्यान के जरिए विस्तारपूर्वक समझाया। मुख्य अथिति का स्वागत उदय प्रताप कॉलेज के प्राचार्य प्रो धर्मेंद्र कुमार सिंह ने किया।

कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन की जिम्मेदारी इस विज्ञान महोत्सव के संयोजक प्रो देवेंद्र कुमार सिंह ने निभाई। कार्यक्रम का सफल संचालन विज्ञान महोत्सव के सह-संयोजक सत्य शरण मिश्रा ने किया। कार्यक्रम के दौरान जंतु विज्ञान की विभागाध्यक्ष प्रो तुमुल सिंह, प्रीति यादव और कीर्ति सिंह तथा विज्ञान महोसव के सह-संयोजक सतीश प्रताप सिंह एवं अन्य प्राध्यापक गण तथा बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं उपस्थित रहे।