भारत-अमेरिका संबंध और मजबूत करने में हिंदी पत्रकारिता की भूमिका अहम – महावाणिज्य दूत माइक हैंकी

0
1655

मुंबई। मुंबई स्थिति अमेरिका के महावाणिज्य दूतावास (काउंसिलेट जनरल) के महावाणिज्य दूत माइक हैंकी (Mike Hankey) ने कहा है कि लोकतंत्र में महत्वपूर्ण सूचनाओं और विचारों की पूरी श्रृंखला को समाज तक पहुँचाने में मीडिया का अहम किरदार होता है और भारत-अमेरिका संबंध और मजबूत करने में हिंदी पत्रकारिता की भूमिका अहम है। वह अमेरिका और भारत की 75 साल पुरानी ऐतिहासिक दोस्ती को और आगे बढ़ाने के इच्छुक हैं और यही उनका लक्ष्य है।

मुंबई हिंदी पत्रकार संघ और महावाणिज्य दूतावास, मुंबई के संयुक्त तत्वावधान में हिंदी दिवस के उपलक्ष्य पर आयोजित हिंदी दिवस समारोह में संगठन के पत्रकारों को संबोधित करते हुए हिंदी में अपने संबोधन में माइक हैंकी ने कहा, “मुझे आप सभी के साथ हिंदी दिवस मनाते हुए खुशी हो रही है। हम वाणिज्य दूतावास में भारत की विभिन्न क्षेत्रीय भाषाओं के महत्व को समझते हैं। पत्रकारों के काम के लिए मेरे मन में बहुत सम्मान है।

श्री हैंकी ने कहा, ”मीडिया का महत्वपूर्ण कार्य, लोकतंत्र में सूचना और विचारों की पूरी श्रृंखला को समाज तक पहुँचाना होता है। और मुझे लगता है कि आप यह सुनिश्चित करने के लिए जो काम करते हैं, आपके पाठक, आपके दर्शक, आपके श्रोता पूरी तरह से सूचना सुनते हैं। यही भारत को मजबूत लोकतंत्र के रूप में रखता है और इससे भारत अमेरिका मजबूत भागीदार हो सकते हैं।”

महावाणिज्य दूतावास, मुंबई के प्रवक्ता ग्रेग पारडो (Greg Pardo) ने कहा कि किसी देश की प्रगति के लिए मीडिया का स्वतंत्र और मजबूत होना महत्वपूर्ण है और हिंदी मीडिया भारत की मीडिया का महत्त्वपूर्ण हिस्सा है। आशा है हम साथ काम कर हमारे साथ साथ भारत और अमेरिका की दोस्ती को भी आगे बढ़ाएंगे। हम उम्मीद करते हैं कि दुनिया के सबसे पुराने लोकतांत्रिक देश अमेरिका और सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश भारत के व्यापक हित में अपने मिशन में कामयाब होंगे। यह कार्यक्रम हिंदी पत्रकारो के साथ दोस्ती बनाने की हमारी एक पहल है। और इसमे हमारा साथ देने के लिए मैं मुंबई हिंदी पत्रकार संघ का आभारी हूं।

मुंबई हिंदी पत्रकार संघ के अध्यक्ष आदित्य दुबे ने कहा कि यह सुखद संयोग है कि भारत और अमेरिका की दोस्ती का यह 75वां वर्ष है और भारत भी अपनी स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव यानी 75वां वर्ष मना रहा है। माइक फ्रैंकी और ग्रेग पारडो के साथ अनौपचारिक बातचीत के दौरान पत्रकारों ने भारत-अमेरिका के संबंधों को और प्रगाढ़ करने के लिए हर सहयोग देने का आश्वासन दिया।

पत्रकारों ने महावाणिज्य दूतावास, मुंबई के वीजा विभाग का दौरा किया, जहाँ वीजा हासिल करने वाले उम्मीदवारों का इंटरव्यू होता है। वहां वीजा विभाग की पब्लिक डिप्लोमेसी असोसिएट जेसिका डोएल (Jessica A.S. Doyle) ने पत्रकारों को अमेरिकी वीजा प्राप्त करने की प्रक्रिया से अवगत कराया। इसके अलावा पत्रकारों ने महावाणिज्य दूतावास की लाइब्रेरी का दौरा किया, जहां भारत अमेरिका संबंधों और अमेरिका से जुड़ी हजारों पुस्तकों का संग्रह है। अमेरिकन सेंटर डायरेक्टर सीता लक्ष्मी मूपनार ने बताया कि लाइब्रेरी में हिंदी किताबों का भी अच्छा संग्रह है और यह संग्रह हम और बढ़ाना चाहते है।

हिंदी पत्रकार संघ की ओर से माइक हैंकी और ग्रेग पारडो को स्मृति चिन्ह, शाल, श्रीफल और पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया गया। इस कार्यक्रम के आयोजन में महावाणिज्य दूतावास की सीनियर मीडिया एडवाइजर अपर्णा नायर (Aparna Nair) ने उल्लेखनीय भूमिका निभाई। हिंदी दिवस समारोह में शामिल सभी पत्रकारों को अमेरिकी लाइब्रेरी की सदस्यता प्रदान की गई। समारोह में आदित्य दुबे के अलावा राजकुमार सिंह, सुरेंद्र मिश्र, विनोद यादव, अभय मिश्र, हरिगोविंद विश्वकर्मा, सैयद सलमान, अभिषेक पांडेय, अखिलेश मिश्रा, वंदना सिंह, शिवानी मिश्रा, अशोक शुक्ला, सुशील मिश्रा, कृष्णा शुक्ला, दिनेश सिंह, बृजेश त्रिपाठी और सोनू श्रीवास्तव शामिल थे।