विश्वकर्मा दर्शन यात्रा के चौथे आयोजन को अभूतपूर्व प्रतिसाद

0
5083

समाज को एकजुट करने का अभियान जारी रहेगाः पूनम विश्वकर्मा

संवाददाता

मुंबई, कई हिंदी फिल्मों और एलबम में गीत लिख चुकी गीतकारा-गायिका पूनम विश्वकर्मा (Poonam Vishwakarma) ने कहा है कि समस्त समाज को एकजुट करने की उनका अभियान इसी तरह जारी रहेगा। उनकी विश्वकर्मा दर्शन यात्रा (Vishwakarma Darshan Yatra) का चौथा आयोजन भायंदर पूर्व में हुआ जिसे लोगों का अभूतपूर्व प्रतिसाद मिला और कार्यक्रम में बड़ी संख्या में विश्वकर्मा समुदाय के लोगों ने शिरकत की।

न्यू गोल्डन नेस्ट के सुथार वाड़ी स्थित श्री विश्वकर्मा चैरिटेबल ट्रस्ट (Shri Vishwakarma Charitable Trust) के विशाल परिसर में बुधवार की शाम हुई भजन संध्या के दौरान विश्वकर्मा समाज के लोगों ने पूनम का सार्वजनिक अभिनंदन किया। इस अवसर पर श्री विश्वकर्मा चैरिटेबल ट्रस्ट के सचिव मघाराम कुलरिया, कोषाध्यक्ष सुखदेव माकड़, उप-कोषाध्यक्ष मेगाराम उस्तवाल, वरिष्ठ सलाहकार हीरालाल माकड़ के अलावा श्री विश्वकर्मा चैरिटेबल ट्रस्ट की कार्य समिति के सदस्य गणेशाराम नागल, बजरंग मांडण, बजरंग पाटोदिया, मगनीराम उस्तवाल, प्रदीप माकड़ लक्ष्मण बरड़वा और शिवलाल सुथार ने शाल श्रीफल और पुष्पगुच्छ देकर पूनम का स्वागत किया। श्री विश्वकर्मा चैरिटेबल ट्रस्ट के प्रदीप माकड़ ने पूनम के अभियान की प्रशंसा करते हुए कहा कि आप असाधारण कार्य कर रही हैं और हम आपके इस अभियान को अपना पूरा सहयोग देंगे।

दहिसर की श्री विश्वकर्मा महिला मंडल की अध्यक्ष श्रीमती भानुबेन जीकवा, मीरारोड महालक्ष्मी भजन मंडल की अनिता विश्वकर्मा और वीना ठुंडानी समेत बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद थीं। इस अवसर पर पूनम विश्वकर्मा ने क़रीब एक दर्जन स्वरचित भजन प्रस्तुत किया। बाद में पूनम ने अपनी विश्वकर्मा दर्शन यात्रा के उद्देश्य पर विस्तृत प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि पहली तीन दर्शन यात्राएं बहुत अधिक सफल रही हैं। उनकी योजना मुंबई के सभी विश्वकर्मा मंदिरों में भजन कार्यक्रम का आयोजन करने का है। उन्होंने लोगों से दर्शन यात्रा अभियान से जुड़ने की अपील की है।

समाज में भाईचारा बढ़ाने और लोगों को एकजुट करने के लिए पूनम ने इस विशेष विश्वकर्मा दर्शन यात्रा कार्यक्रम की शुरुआत की दिसंबर में की थी। इस अभियान के तहत वह प्रत्येक महीने की अमावस्या तिथि को किसी मंदिर में शाम को विशेष भक्तिमय भजनों का संगीत कार्यक्रम का आयोजन करती हैं। विश्वकर्मा दर्शन यात्रा के चौथे आयोजन में पूनम विश्वकर्मा का भजन गायन में उनके सहयोगी प्रकाश तिवारी (Prakash Tiwari) ने तबले पर साथ दिया, जबकि की-बोर्ड देवेश पाठक (Devesh Pathak) प्ले कर रहे थे। अरविंद ठाकुर (Arvind Thakur) ने ढोलक पर साथ दिया और विश्वकर्मा दर्शन यात्रा का फेसबुक लाइव पूनम के पति संजीव विश्वकर्मा (Sanjeev Vishwakarma) ने किया।

इसे भी पढ़ें – राम भजन की सीरीज पर काम कर रही हैं पूनम विश्वकर्मा